Menu
A+ A A-

ग्लोबल एम- प्राइज़ संगीत प्रतियोगिता का भव्य पुरस्कार होगा $ $100,000

english espanol portuguese chinese

डीन हारून डॉर्कि मिशिगन यूनिवर्सिटी के संगीत, रंगमंच और नृत्य  स्कूल के छात्र के साथ एम प्राइज़ चैंबर कला प्रतियोगिता में संगीत की विविधता का प्रदर्शन कर रहे हैं जिसमे स्ट्रिंग्स, हवा, और ओपन डिवीजन शामिल हैं। बाये से एंड्रयू पेक, निकोल पैट्रिक, हीथ केंड्रिक, अन्ना थॉम्पसन, डीन हारून डॉर्किन, बेलिंडा रोजेन, मैक्स करमैजन, स्टीफन ग्रेडी, कैथरीन मिलरडीन हारून डॉर्कि मिशिगन यूनिवर्सिटी के संगीत, रंगमंच और नृत्य स्कूल के छात्र के साथ एम प्राइज़ चैंबर कला प्रतियोगिता में संगीत की विविधता का प्रदर्शन कर रहे हैं जिसमे स्ट्रिंग्स, हवा, और ओपन डिवीजन शामिल हैं। बाये से एंड्रयू पेक, निकोल पैट्रिक, हीथ केंड्रिक, अन्ना थॉम्पसन, डीन हारून डॉर्किन, बेलिंडा रोजेन, मैक्स करमैजन, स्टीफन ग्रेडी, कैथरीन मिलरएन आर्बर: दुनिया में चैम्बर संगीत में उच्चतम क्षमता दिखाने वाले आन्साम्बल की पहचान करने के लिए मिशिगन यूनिवर्सिटी ने एम- प्राइज़ की घोषणा की है। इस अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में $100,000 का पुरस्कार दिया जायेगा जो इस तरह के प्रतियोगिता मे सबसे बड़ा पुरस्कार हैं ।

एम- प्राइज़ यू -एम संगीत, रंगमंच और नृत्य स्कूल में आधारित होगा। इस प्रतियोगिता की शुरुआत 2016 मे होगी और यह सालाना मई में आयोजित किया जायेगा। इसके लिये अब ऐप्लकेशन ऑनलाइन (mprize.umich.edu ) स्वीकार किये जा रहे हैं जिसकी अन्तिम तिथि 1 मार्च 2016 हैं। प्रतियोगिता में दो आयु डिवीजन शामिल होगें: जूनियर (उम्र 18 और तहत) और सीन्यर (औसत उम्र 19-35)।

यह प्रतियोगिता, जिसे प्रोवोस्ट के ऑफिस द्वारा प्रायोजित किया जा यहा हैं , तीन और आठ सदस्यों की आन्साम्बल के लिए खुला होगा। तार और हवा श्रेणियों के साथ -साथ एक "खुला" श्रेणी भी होगा जिसमे मिश्रित उपकरण, प्रौद्योगिकी, आवाज और तात्कालिक प्रदर्शन शामिल होगा।

अपने उद्घाटन वर्ष के दौरान, एम- प्राइज़ में चैम्बर संगीत पर ध्यान दिया जाएगा, लेकिन आगामी वर्षों में इसमें चैम्बर कला के पूरा स्पेक्ट्रम को शामिल करने की योजना है।

एम- प्राइज़ के विजेता को तीन सीनियर डिवीजन के फाइनलिस्ट में से 20 मई को यू -एम के हिल ऑडिटोरीअम में संगीत कार्यक्रम के दौरान चुना जाएगा। इस संगीत कार्यक्रम को डेट्रायट पब्लिक टेलीविजन पर प्रसारित किया गया और देश भर में पीबीएस स्टेशनों में भी उपलब्ध कराया जाएगा।

नकद पुरस्कार के अलावा, विजेता को यूनिवर्सिटी संगीत सोसायटी द्वारा चैम्बर संगीत कॉन्सर्ट श्रृंखला में एन आर्बर में प्रस्तुत किया जाएगा। यूएमएस को हाल ही में कला का राष्ट्रीय पदक प्राप्त हुआ है।

इस प्रतियोगिता के पीछे हारून डॉर्किन है जो जुलाई में SMTD के डीन बने हैं। ये स्फिंक्स संगठन के संस्थापक भी हैं जो अमेरिका में शास्त्रीय संगीत की दुनिया में विविधता बढ़ाने के लिए काम करता हैं। डॉर्किन का मानना है कि यह प्रतियोगिता चैम्बर संगीत पर आवश्यक ध्यान केन्द्रित करेगा और प्रशिक्षित संगीतकारों और अन्य कलाकारों को प्रदर्शन करके कई कैरियर मार्ग प्रदान करेगा।

"चैम्बर संगीत में स्थापित और उभरते नेताओं को संगृहीत करने के लिए मिशिगन यूनिवर्सिटी से बेहतर जगह क्या हो सकती है, " डॉर्किन कहा। हम कलाकारों के प्रदर्शन के लिए कलात्मक परिदृश्य को भी विकसित कर रहे हैं। "

"एम- प्राइज़ प्रदर्शन करेंगा कि अपने क्षेत्र में शीर्ष कलाकार को अपने करियर को बढ़ाने के लिये कैसे कोशिश कर रहे जो आधुनिक युग में कला प्रदर्शन की एक आवश्यकता है," उन्होंने कहा। "और साथ ही शैली की असीम संभावनाओं का पता लगाने के लिए युवा कलाकारों को प्रोत्साहित करेंगा।"

एम- प्राइज़ प्रतियोगिता के घोषित लक्ष्य हैं:
— चैम्बर कला के लिए एक विश्व स्तरीय प्रदर्शन और न्याय निर्णयन मंच प्रदान करना।
— पुरस्कार, दृश्यता और पेशेवर विकास के अवसरों के माध्यम से चैम्बर टुकड़ियों के कॅरिअर को लांच और अग्रिम करना।
— असाधारण टुकड़ियों के लिए चैम्बर कला परिदृश्य की गहराई और जुड़े व्यावसायिक अवसरों को विकसित करना।

एम- प्राइज़ के निर्णायकों में चैम्बर संगीत के शीर्ष शिक्षकों और कलाकार शामिल हैं। 15 सदस्यीय की अंतरराष्ट्रीय जूरी में वायलिन वादक राहेल बार्टन पाइन, सैक्सोफोनिस्ट टिमोथी मैकएलिसटर और जास ढोलकिया / संगीतकार जॉन हालेनबाक भी शामिल है।

एम- प्राइज़
संगीत, रंगमंच और नृत्य का स्कूल